मोदी सरकार ने लिया बड़ा फैसला अब कोरोना मरीजों को दी जाएगी ये दवा

कोरोना वायरस की वजह से बहुत सारी कम्पनियां अब अपना कारोबार समेट का भारत आ रही हैं। यह देशी-विदेशी कम्पनियां अपने कारोबार को उत्तर प्रदेश में स्थापित करें इसके लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की आर्थिक टास्क फोर्स पूरा जोर लगा दे रही है। कई लुभावने प्रस्ताव बनाए जा रहे हैं, जिससे विदेशी कम्पनियां यूपी में अपना कारोबार शुरू करें। लेकिन इसी बीच उत्तर प्रदेश सरकार ने एक बार फिर से बड़ा फैसला लिया है और 6 महीने के लिए राज्य में किसी भी तरह की हड़ताल पर रोक लगा दी है।

अब कोई कर्मचारी हड़ताल पर नहीं जाएगा। कोरोना संकट के मद्देनजर यह निर्णय लिया गया है। अपर मुख्य सचिव नियुक्ति एवं कार्मिक मुकुल सिंघल ने कहा कि हड़ताल पर रोक के बावजूद यदि कर्मचारी आंदोलन आदि करते हैं तो सरकार सख्त कार्रवाई कर सकेगी।

कपूर खानदान की एक ऐसी महिला जिसने चुना गुमनाम की ज़िन्दगी, जानिए क्यों

योगी सरकार ने हाल ही में कर्मचारियों के कई भत्तों का भुगतान एक वर्ष के लिए स्थगित करने के बाद अब इसे पूरी तरह से समाप्त कर दिया गया है। तमाम सेवा संगठनों से जुड़े कर्मचारी काली पट्टी बांधकर इसके प्रति विरोध जता रहे हैं। लेकिन सरकार के सख्त कार्रवाई की वजह से कोई कर्मचारी हड़ताल पर गया तो उनपर कार्रवाई होगी।

loading...

Related News